Covid precautions: हेल्थ मिनिस्ट्री के ये ‘5 क’ वाले नियम गांठ बांध लो, आपके पास भी नहीं भटकेगा Omicron Virus

0
6


भारत सहित पूरी दुनिया में कोरोना वायरस ओमीक्रोन ने तबाही मचा रखी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, भारत में एक दिन में कोरोना के 2,64,202 नए मामले देखे गए हैं, जो पिछले 239 दिनों में सबसे अधिक है। इस तरह देश में कोरोना के कुल मामले 3,65,82,129 हो गए हैं जिनमें ओमीक्रोन संस्करण के 5,753 मामले शामिल हैं। कोरोना से अब तक 4,85,350 लोगों की मौत हो गई है।

कोरोना के ओमीक्रोन वेरिएंट को बेहद खतरनाक माना जा रहा है और यह डेल्टा से भी ज्यादा घातक है। चिंता का विषय यह है कि इसके लक्षण सामान्य सर्दी-फ्लू से मिलते-जुलते हैं। जाहिर है सर्दियों का मौसम है और इस मौसम में सर्दी के लक्षणों का ज्यादा खतरा होता है। अधिकतर लोग फ्लू और ओमीक्रोन के लक्षणों की पहचान नहीं कर पा रहे हैं, जिस वजह से वो आसानी से इसकी चपेट में आ रहे हैं।

ध्यान रहे कि कोरोना वायरस का कोई स्थायी इलाज नहीं है। फिलहाल टीकाकरण और इम्यून पावर को मजबूत बनाकर इससे मुकाबला किया जा सकता है। तमाम हेल्थ एक्सपर्ट्स कोरोना से बचाव के लिए हेल्दी डाइट लेने और इम्यून पावर बढ़ाने की सलाह दे रहे हैं। इस बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई तभी जीती जा सकती है, जब हर कोई अपना लक्ष्य और दायित्व जानता हो। हर समय कोविड अनुरूप व्यवहारों का पालन करें। मंत्रालय ने कोरोना को लेकर ‘5 क’ के कुछ कुछ खास नियम बनाए हैं, जिनके ऊपर अमल करके कोरोना से बचने और इसे फैलने से रोकने में मदद मिल सकती है।

हेल्थ मिनिस्ट्री दृारा शेयर की गई ये पोस्‍ट

पहला नियम है ‘क्या करें’

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि कोरोना वायरस या इसके रूप जैसे डेल्टा या ओमीक्रोन से बचाव के लिए लोगों को कोविड अनुरूप व्यवहार का पालन करना चाहिए। ध्यान रहे कि कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है और इसका कोई मेडिकल ट्रीटमेंट नहीं है इसलिए खुद को और दूसरों को सुरक्षित रखने के लिए कोरोना के नियमों का पालन करें।

दूसरा नियम है ‘कब करें’

मंत्रालय ने बताया है कि कोविड अनुरूप व्यवहार का पालन करना हर समय जरूरी है। अक्सर देखा गया है कि मामले कम होते ही लोग बेपरवाह हो जाते हैं और कोरोना के नियमों की धज्जियां उड़ानी शुरू कर देते हैं। ध्यान रहे है कि आपकी जरा सी लापरवाही आपको और दूसरों को खतरे में डाल सकती है।

तीसरा नियम ‘कहां करें’

कोविड अनुरूप व्यवहार का पालन हर जगह करना जरूरी है। अक्सर देखा गया है कि कुछ लोग अपने कार्यस्थल पर तो मास्क पहनते हैं लेकिन बाजार, अपने घर और भीड़ वाली जगहों पर ऐसा नहीं करते हैं। ध्यान रहे कि जब तक महामारी खत्म नहीं हो जाती, तब तक सभी नियमों का सख्ती से पालन करना जारी रखें।

चौथा नियम ‘कौन करे’

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, कोविड अनुरूप व्यवहार का पालन करना सभी लोगों के लिए जरूरी है। बाहर जाते हैं समय हमेशा मास्क पहनें और बच्चों को भी मास्क लगाकर रखें। छोटे बच्चों को घर से बाहर न निकालें। हाथों को बार-बार धोते रहें और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखें।

पांचवा नियम ‘क्यों करें’

आपको यह समझना होगा कि कोरोना वायरस महामारी का कोई भी स्थायी इलाज नहीं मिला है। हालांकि दुनियाभर के तमाम वैज्ञानिक इसका खोजने में लगे हैं लेकिन फिलहाल दूसरे रोगों में इस्तेमाल होने वाली दवाओं के जरिए मरीजों का इलाज किया जा रहा है। कोरोना से रोजाना हजारों लोगों की मौत हो रही है इसलिए अगर आप जिंदा और स्वस्थ रहना चाहते हैं, तो इन नियमों का पालन जरूर करें।



Source link