आज से वृष राशि में रहेगा शुक्र: बुध-शुक्र की युति से राजनीतिक उथल-पुथल के संकेत और आर्थिक बदलाव के योग

0
32


  • Hindi News
  • Jeevan mantra
  • Jyotish
  • Grah Rashi Parivartan 4th And 14th May 2021; Planet Transit | Effects Of Planetary Position On Taurus Vrash Mithun Gemini Sagittarius And Libra

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

एक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
  • 14 मई को होगी वृष संक्रांति, इस दिन वृष राशि में प्रवेश करेगा सूर्य

मई में 4 बड़े ग्रहों का राशि परिवर्तन हो रहा है। 4 मई को शुक्र वृष राशि में गोचर करेगा। जबकि इसके पहले बुद्धि, वाणी और व्यापार का ग्रह बुध भी वृष राशि में आ चुका है। इन दोनों ग्रहों के बाद 14 मई को सूर्य भी इस राशि में आ जाएगा। इनके अलावा राहु भी वृष राशि में रहेगा। इन चार ग्रहों के एक ही राशि में होने से देश की राजनीति में उथल-पुथल का समय रहेगा। साथ ही आर्थिक स्थिति में सुधार भी होने की संभावना है।

इसी महीने शुक्र भी दो बार राशि परिवर्तन करेगा। वहीं, बुध एक बार फिर 25 मई को राशि बदलेगा। इसके बाद महीने के आखिरी में मिथुन राशि में बुध वक्री होगा। यानी टेढ़ी चाल से चलेगा। ग्रहों के इस परिवर्तन से सबसे ज्यादा वृषभ राशि पर प्रभाव पड़ेगा। हालांकि ग्रहों के इन परिवर्तनों का असर सभी 12 राशियों पर सीधे तौर पर देखने को मिलेगा।

शुक्र के प्रभाव से मिलेगा आर्थिक फायदा
पुरी के ज्योतिषशाचार्य डॉ. गणेश मिश्र बताते हैं कि 4 मई को दोपहर में शुक्र का राशि परिवर्तन वृष राशि में होगा। 28 मई तक इसी राशि में रहेगा। इसके बाद यह मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएगा। ऐसे में शुक्र के इस राशि परिवर्तन का भी सबसे ज्यादा असर वृष राशि के जातकों पर ही पड़ेगा। चूंकि वृषभ राशि का स्वामित्व शुक्र के ही पास है। ऐसे में इस परिवर्तन के चलते वृषभ राशि वालों को आर्थिक फायदे की संभावना है। शुक्र ग्रह को भाग्य, वैभव, ऐश्वर्य आदि का कारक माना जाता है।

14 को सूर्यदेव बदलेंगे चाल
14 मई को सूर्यदेव भी अपनी चाल बदलकर वृषभ राशि में सुबह 11:15 बजे गोचर करेंगे। इस दिन वृषभ संक्रांति भी होगी। यहां 15 जून तक रहेंगे। सूर्य को ज्योतिष शास्त्र में आत्मा, मान-सम्मान, यश आदि का कारक माना जाता है।

खबरें और भी हैं…



Source link